ⓘ जीवनी

वेणुधर शर्मा

वेणुधर शर्मा विख्यात असमिया भाषा साहित्यकार *तीर्थनाथ शर्मा द्वारा रचित एक जीवनी छी जेकर लेल हुनका सन् 1986 मे साहित्य अकादमी पुरस्कार सँ सम्मानित कएल गेल।

विश्वकोश

एगो विश्वकोश एक संदर्भ कार्य या अनुक्रमणिका छि जे कि सभ शाखास या विशेष क्षेत्र या अनुशासनसे ज्ञानके सारांश प्रदान करैछि। ज्ञानकोशके लेख या प्रविष्टिसभमे विभाजित कराइलगेल अछि जे प्राय: लेख नाम आ विषयगत लड्किसभस वर्णमाला क्रमबद्ध कक राखैछि। विश्वकोश प्रविष्टिसभ प्रायः शब्दकोशसभमे कहैत लम्बा आ अधिक विस्तृत हेत अछि।सामान्यतया शब्दकोष प्रविष्टिसभ जेहन नईभक - जे शब्दसभके भाषिक जानकारीमे केन्द्रित हैत अछि, जेनाकि उसभके व्युत्पत्ति, अर्थ, उच्चारण, प्रयोग, आ व्याकरणात्मक रूपसभ - ज्ञानकोष लेखसभ लेखके शीर्षकमे लिखल शीर्षकसँगे सम्बन्धित तथ्यान्क जानकारीमे केन्द्रित होइत अछि।

सुभाषचन्द्र यादव

सुभाषचन्द्र यादव 1948- जन्म ०५ मार्च १९४८, मातृक दीवानगंज, सुपौलमे। पैतृक स्थान: बलबा-मेनाही, सुपौल।घरदेखिया मैथिली कथा-संग्रह, मैथिली अकादमी, पटना, १९८३, हाली अंग्रेजीसँ मैथिली अनुवाद, साहित्य अकादमी, नई दिल्ली, १९८८, बीछल कथा हरिमोहन झाक कथाक चयन एवं भूमिका, साहित्य अकादमी, नई दिल्ली, १९९९, बिहाड़ि आउ बंगला सँ मैथिली अनुवाद, किसुन संकल्प लोक, सुपौल, १९९५, भारत-विभाजन और हिन्दी उपन्यास हिन्दी आलोचना, बिहार राष्ट्रभाषा परिषद्, पटना, २००१, राजकमल चौधरी का सफर हिन्दी जीवनी सारांश प्रकाशन, नई दिल्ली, २००१, बनैत-बिगड़ैत कथा-संग्रह २००९। मैथिलीमे करीब सत्तरि टा कथा, तीस टा समीक्षा आ हिन्दी, बंग ...

एम॰ एस॰ धोनी: द अनटॉल्ड स्टोरी

एम॰ एस॰ धोनी: द अनटॉल्ड स्टोरी नीरज पांडे द्वारा निर्देशित एकटा बॉलीवुड जीवनी फिल्म छी। फ़िल्म में सुशांत सिंह राजपूत क्रिकेटर महेंद्र सिंह धोनीक किरदार निभाने अछि ।फ़िल्म रिती स्पोर्ट मैनेजमेंट, इंसपायर्ड एंटरटैनमेंट तथा आदर्श टेलिमीडिया द्वारा निर्मित छी। नीरज पांडे निर्देशित हालिया रिलीज फिल्म ‘एमएस धोनी: द अनटोल्ड स्टोरी‘ क दर्शक काफी पसंद कर रहल अछि. फिल्म शुरुआती तीन दिनम करीब ६६ करोड़ रुपैयाक कारोबाकर चुकल अछि । फिल्म अतेक कमाई सिर्फ भारतम केने अछि. फिल्मक मिल रहल प्रशंसा के बाद ई फ़िल्मक उत्तर प्रदेशम टैक्स फ्री करने अछि ।

भोलालाल दास

भोलालाल दास 1897-1977 हिनक जन्म दरभंगा जिलाक कसरौर मे भेलन्हि । साहित्य सर्जनाक अतिरिक्त अपन संगठन क्षमता तथा मैथिली साहित्यक सर्वतोमुखी विकासक हेतु सतत तत्पर रहबाक कारणेँ भोला बाबू मैथिली संसारक एक स्तम्भक रूपमे रहलाह । हिनक निधन 1977 ई. मे भेल । मैथिलीक प्रचार-प्रसारमे ई अपन जीवन समपित कएने छलाह। पाठ्यक्रममे मैथिलीकेँ स्थान हो ताहि हेतु ई बीड़ा उठओलन्हि । विद्यालय स्तरक अनेक पोथीक निर्माण कएल । मैथिली साहित्य परिषदक ई संस्थापक मण्डलक सदस्य छलाह । 1931 सँ 1940 ई. पर्यन्त ओकर प्रधान मन्त्नी रहलाह । हिनक मन्त्नित्वकालमे ’भारती’ नामक मासिक पत्नक प्रकाशन भेल । एहिसँ पूर्व १९२९-३१ कुशेश्वर कुम ...

मृदुला सिन्हा

मृदुला सिन्हा गोवा प्रदेशक राज्यपाल छी । ओ हिन्दी साहित्यक एक लेखक आ एक राजनीतिज्ञ भारतीय जनता पार्टीक केन्द्रीय कार्यसमितिक सदस्य सेहो छी । एहिसँ पूर्वमे ओ पाँचवाँ स्तम्भ कऽ नाम सँ एक सामाजिक पत्रिका निकालैत छल ।

                                     

ⓘ जीवनी

जीवनी जीवनक वृतान्तकें कहल जाएत अछि। ई साहित्यकें एक पुरान विधा सेहो छी। प्रसिद्ध इतिहासज्ञ आ जीवनी-लेखक टामस कारलाइल अत्यन्त सोझ आ सङ्क्षिप्त परिभाषामे एकरा "एक व्यक्तिक जीवन" कहने अछि। एहि तरह कोनो व्यक्तिकें जीवन वृत्तान्तसभकें सचेत आ कलात्मक ढङ्ग सँ लिख देनाए जीवनचरित कहल जाए सकैत अछि। यद्यपि इतिहास किछ हदधरि, किछ लोगसभक रायमे, महापुरुषसभक जीवनवृत्त छी तथापि जीवनचरित ओहि सँ एक अर्थमे भिन्न भऽ जाएत अछि। जीवनचरितमे कोनो एक व्यक्तिकें यथार्थ जीवनक इतिहासक आलेखन होएत अछि, अनेक व्यक्तिसभक जीवनकें नै। मुदा जीवनचरितक लेखक इतिहासकार आ कलाकारक कर्त्तव्यकें किछ समीप नै आबि नै रहि सकैत अछि। जीवनचरितकार एक दिस तँ व्यक्तिकें जीवनक घटनासभक यथार्थता इतिहासकारक रुपमे स्थापित करैत अछि; दोसर दिस ओ साहित्यकारक प्रतिभा आ रागात्मकताक तथ्यनिरूपणमे उपयोग करैत अछि। ओकर ई स्थिति सम्भवत: ओकरा उपन्यासकारक निकट सेहो लाबि दैत अछि।

जीवनचरितक सीमाकें यदि विस्तार कएल जाए तँ ओकर अन्तर्गत आत्मकथा सेहो आबि जाएत।

                                     

मलिएर

मलिएर मॅलिएर फ़्रंस. Molière ; मूल नाम Jean Baptiste Poquelin, १५ जनवरी.१६२२ - १७ फ़रवरी १६७३ - फ़्रांस और रोप में सुखांत नामहान रचयिता अभिनेता आर थियेटरके निदेशक होएत यूरोप में शास्त्रीय सुखांतक कला के स्थापना करने अछि। मलिएर की जीवनी हिंदी में: moliere biography in hindi

                                     

डॉ. पारसमणिको जीवनयात्रा

डॉ. पारसमणिको जीवनयात्रा विख्यात नेपाली भाषा साहित्यकार नगेन्द्रमणि प्रधान द्वारा रचित एक जीवनी छी जेकर लेल हुनका सन् 1995 मे साहित्य अकादमी पुरस्कार सँ सम्मानित कएल गेल।

                                     

ग्रेसी सिंह

ग्रेसी सिंह एक भारतीय अभिनेत्री छी । हुनकर चिनारीक कारण सन् २००१ के भारतीय चलचित्र लगानमे उत्कृष्ट अभिनय । सिंह भरतनाट्यम आ नृत्य विधामे निपुण छथि ।

                                     

अलेक्ज्याण्डर ग्राहम बेल

अलेक्ज्याण्डर ग्राहम बेल क सारा दुनिया सामान्यतया टेलीफोनक आविष्कारकक रूपमे बेसी जानल जाएत छल। बहुतरास कम लोग मात्र ई जनैत अछी कि ग्राहम बेल टेलीफोनका अाविस्कार मात्र नाई, कम्युनिकेशन टेक्नोलजीक क्षेत्रमे बहुत उपयोगी आविष्कार केने अछी। अप्टिकल-फाइबर सिस्टम, फोटोफोन, बेल आर डेसिबॅल यूनिट, मेटल-डिटेक्टर आदिक आविष्कारकसभ क श्रेय सेहो ईनके जाएत अछी ।

                                     

अनिता हस्सनन्दनी

अनिता हस्सनन्दनी अप्रैल १४, १९८१) एक भारतीय चलचित्र अभिनेत्री छी, जेकरा नताशा नामसँ सेहो चिन्हल जाइत अछि। जीवनमे सबसँ बहुत उपलब्धि हुन्का बालाजी टेलिफिल्म्सक "काव्याञ्जलि"क अञ्जलि नन्दा नामक पात्रसँ मिलल।